DESI PATRIKA

HINDI NEWS WEBSITE

RPF ने तोड़ा शौचालय

Spread the love

अंडाल:उखड़ा ग्राम पंचायत अधीन उखड़ा सफीक नगर ग्वाला पट्टी में शुक्रवार को उखड़ा आरपीएफ (RPF) द्वारा रेलवे जमीन पर बने निर्मल बांग्ला फंड से बाथरूम को तोड़ा डाला साथ ही साथ एक दीवाल को भी तोड़ा। जिसका प्रतिवाद ग्वाला पट्टी के 20 परिवार ने जाहिर करते हुए कहा कि हम लोग उखड़ा आरपीएफ को दूध बिना मूल्य में दे रहे थे। परंतु कुछ दिनों से नहीं देने के चलते उन्होंने बाथरूम और दीवार को तोड़ दिया ।


इस घटना की जानकारी स्थानीय सफेद नगर वासियों ने उखड़ा ग्राम पंचायत को सूचित किया घटनास्थल पर पंचायत प्रधान एवं उप प्रधान पहुंच मामले की छानबीन कीइस संदर्भ में उखड़ा ग्राम पंचायत प्रधान रिता घोष एवं उप प्रधान राजू मुखर्जी घटनास्थल पर पहुंचकर पूरी स्थिति की छानबीन किया ।

BDO से की गई शिकायत

उन्होंने इस संदर्भ में लिखित शिकायत अंडाल प्रखंड पदाधिकारी को लिखा की निर्मल बांग्ला के तहत तैयार बाथरूम को आरपीएफ द्वारा तोड़ा गया है सफीक नगर ग्वालापारा में 40 वर्ष से लोग रेल के जमीन पर रह रहे हैं जहां पर देश के प्रधानमंत्री स्वच्छ भारत के तहत शौचालय बनाने की बात करती है वहां पर इस तरह का हरकत क्यों किया गया

इस संबंध में ग्वाला पट्टी निवासी निभा कुमारी छोटू यादव ने बताया कि कई महीने से हम लोगों के ऊपर में उखड़ा आरपीएफ के द्वारा अत्याचार किया जा रहा है उनके द्वारा रेलवे के जमीन पर रहने के एवज में रुपए मांगी जा रही थी जिसे हम लोगों ने देने से इनकार किया परंतु दूध देने का जबरन डिमांड उन लोगों द्वारा थोपा गया उनका कहना था कि जब हमारे कैंप में कोई बड़ी पार्टी होगी जहां खीर एवं अन्य मिष्ठान दूध से बनेगा उस वक्त हम लोगों को दिया जाए जिस पर हम लोगों ने देने की सहमति मानी और दे भी रहा था परंतु इन दिनों हालत बहुत जर्जर है । दूध की बिक्री बट्टा बहुत कम है

संसार चलाना मुश्किल है जिस कारण दूध उनके कैंप नहीं पहुंचाया जा रहा है हम लोग असमर्थ हो गए जिसका नतीजा बाथरूम तोड़ना और दीवाल को तोड़ डाला आरपीएफ की लापरवाही के चलते भैंस का एक बच्चा भी मारा गया यह गुंडागर्दी नहीं तो क्या है उन्होंने आगे कहा कि जिस तरह से रेलवे के जमीन पर खटाल हम लोगों द्वारा निर्मित किया गया है ठीक उसी तरह से आसनसोल डिवीजन में कई स्थानों पर खटाल है वहां क्यों नहीं इन लोगों द्वारा गुंडागर्दी किया जाता है सिर्फ उखड़ा सफीक नगर में ही क्यों हम लोगों के साथ जानवरों की तरह व्यवहार इनके द्वारा किया जा रहा है।

आरपीएफ ने कहा रेलवे के निर्देश पर की गई कार्रवाई, दूध लेने का आरोप निराधार

इधर इस संदर्भ में उखड़ा आरपीएफ अधिकारी ने बताया कि हम लोगों द्वारा ऑपरेशन के तहत अवैध निर्माण उखड़ा सफेद नगर में तोड़ा गया है यह आदेश हमें आईडब्ल से प्राप्त हुआ था हमने अपना ड्यूटी किया
दूध के संदर्भ में कहा कि यह झूठा आरोप हम लोगों के ऊपर थोपा जा रहा है हम लोग द्वारा कोई दूध का डिमांड नहीं किया गया है।

अंडाल प्रखंड पदाधिकारी रितिक हजरा ने कहा कि मामले की छानबीन इस संदर्भ में किया जाएगा लिखित शिकायत पंचायत द्वारा मिली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *