DESI PATRIKA

HINDI NEWS WEBSITE

पश्चिम बंगाल की TMC सरकार को उखाड़कर सत्ता से बाहर फेंकना है: नड्डा

Spread the love

DP डेस्क-पश्चिम बंगाल : भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने सोमवार को पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ तृणमूल कांग्रेस की सरकार पर जम कर हमला बोला और आरोप लगाया कि मौजूदा शासन में राजनीति का अपराधीकरण और भ्रष्टाचार नई ऊंचाइयों को छू रहा है। भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती के अवसर पर आयोजित एक डिजिटल रैली को संबोधित करते हुए नड्डा ने पश्चिम बंगाल के पार्टी कार्यकर्ताओं से वहां की तृणमूल कांग्रेस सरकार को उखाड़ कर सत्ता से बाहर करने का आह्वान किया। नड्डा ने देश की एकता व अखंडता के लिए लड़ने और दिवंगत प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की ‘‘तुष्टीकरण की राजनीति’’ का विरोध करने पर मुखर्जी की सराहना की।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि एक तरफ श्यामा प्रसाद मुखर्जी हैं जिन्होंने देश को एकजुट रखने की लड़ाई लड़ी और आदर्शों व सिद्धांतों को हमेशा सर्वोपरि रखा, वहीं दूसरी तरफ आज की वर्तमान तृणमूल कांग्रेस की सरकार है जिसके लिए पद पर बने रहने के लिए हर समझौता स्वीकार्य है। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘आज राजनीति का अपराधीकरण नई ऊंचाइयों पर पहुंच गया है। हमने नहीं सुना था कभी, लेकिन आज कल सुनता हूं। कट मनी, कट मनी, कट मनी। कट द साइज ऑफ़ सच लीडर्स इन कमिंग टाइम्स। इनके साइज को कट करना है। ’’

पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं से मुखर्जी के बताए रास्ते पर चलने का आह्वान करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि अब बारी बंगाल के गौरव को पुन:स्थापित करने की है। उन्होंने कहा, ‘‘राजनीतिक दृष्टि से बंगाल को हमें ऊंचाइयों पर ले जाना है। विद्या की दृष्टि से उसे ऊपर उठाना है और जो बंगाल का गौरव था उस गौरव को स्थापित करना है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इस संकल्प के लिए वर्तमान सरकार, जो हर तरीके से नुकसान पहुंचा रही है, को बाहर करना है और वहां भाजपा का शासन लाना है। यह हमारी जिम्मेदारी है इसको हम को पूरा करना पड़ेगा।’’ उन्होंने कहा कि बंगाल ने देश को दृष्टि दी है, इसमें कोई दो राय नहीं है, लेकिन आज के दिन जब वहां शिक्षा की स्थिति और वर्तमान बंगाल के नेतृत्व को देखता हूं तो दिल द्रवित और दुखी होता है।

तृणमूल कांग्रेस सरकार पर भाजपा की विचारधारा को दबाने और राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों को जेल में डालने का आरोप लगाते हुए नड्डा ने पार्टी कार्यकर्ताओं से आहृवान किया कि वे विचारों की लड़ाई लड़ें।

उन्होंने कहा, ‘‘जहां बल का प्रयोग होता है वहां विचारधारा समाप्त होती है। आज बंगाल जो विचार से ओतप्रोत है, उसके विचार को कुंठित करने का काम वर्तमान सरकार कर रही है। राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों को जेल में डाल दो। उनके खिलाफ केस लगा दो। उनके खिलाफ नारकोटिक्स के केस लगा दो।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इधर, हमारे प्रधानमंत्री हैं जो संघीय व्यवस्था में विश्वास करके सभी को साथ लेकर कोरोना के संक्रमण से लड़ रहे हैं। और एक वहां की मुख्यमंत्री हैं जो आयुष्मान भारत कार्यक्रम को सिर्फ इसलिए लागू नहीं कर रही हैं क्योंकि यह केंद्र की योजना है, मोदी जी की योजना है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह न तो क्षेत्रीय आकांक्षाओं की पूर्ति करता है और ना ही राष्ट्रीयता का बोध देता है। इस तरीके की सरकार आज यहां खड़ी है।’’

राष्ट्र के लिए मुखर्जी के योगदान का जिक्र करते हुण् नड्डा ने कहा कि उनके ही प्रयासों की बदौलत आज पश्चिम बंगाल और पंजाब का एक बड़ा हिस्सा भारत के साथ है। उन्होंने कहा, ‘‘नहीं तो विभाजन के साथ ही ये पाकिस्तान के साथ चला जाता। मुखर्जी ने आजादी के बाद नेहरू की तुष्टीकरण की नीति का विरोध किया। लोकतंत्र का गला घोंटने की आदत रही है कांग्रेस की।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *